Spread the love

   सूचना विभाग में प्रिंटिंग में बड़े कागज की खरीद पर रोक लगाकर अपर मुख्यसचिव अवनीश अवस्थी और सूचना निदेशक शिशिर ने किया सराहनीय काम, सरकार को होगी करोड़ों की बचत l

     यूपी के सूचना विभाग ने प्रिंटिंग कार्यों के लिए प्रिंटिंग  साइज से बड़े कागज खरीदने की व्यवस्था पर रोक लगाने का महत्वपूर्ण फैसला कर जहां एक ओर करोड़ो रूपये के राजस्व को बचाने का प्रयास किया है वही इस व्यवस्था से भृस्टाचार पर लगाम लगाने में ठोस कदम उठाया है, जिसका पूरा श्रेय अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी के साथ सूचना निदेशक शिशिर उप निदेशक(प्रकाशन) राजेन्द्र पांडेय को जाता है, जिन्होंने दशकों से चली आ रही इस गलत परम्परा पर कठोर कदम उठाया, मालूम हो कि सूचना विभाग में बीते कई बर्षों से प्रिंटिंग कार्यो के लिए जरूरी साइज से बड़े कागज की खरीद कर हर वर्ष करोडों का गोलमाल कर कागज सप्लायर को फायदा पहुंचाया जाता रहा है l सूचना निदेशक शिशिर जी स्वभाव से काफी नरम और हंसमुख प्रतीत होते हैं काम के प्रति उनकी कर्तव्यनिष्ठा एक उदाहरण है उन्हें जब भी जो जिम्मेदारी दी जाती है उसे पूर्ण ईमानदारी के साथ निभाते रहे हैं, किसी कार्य को अगले दिन पर नहीं छोड़ते हैं जो भी कार्य सामने आता है उसे तत्काल निस्तारण कर नई ऊर्जा के साथ अगली कार योजना पर लग जाते रहे हैं l

   अपर मुख्य सचिव, सूचना निदेशक और उप निदेशक(प्रकाशन) ने कठोर कदम उठाते हुए इस गलत परम्परा पर रोक लगा दी,और विभाग द्वारा प्रकाशित होने वाली सेवोनेअर के लिए पहली बार सेवोनेअर का साइज सभी प्रिंटिंग प्रेसों को बताकर कहा कि वो आवश्यक साइज का कागज बताएं जो इसमे उपयोग होगा जिसे विभाग द्वारा उन्हें मुहैया कराया जा सके, इससे स्पष्ट है कि अब पहले की तरह बड़े कागज की सप्लाई कर करोड़ो के गोलमाल के खेल के माहिर कागज सप्लायर के  मंसूबो पर इस बार पूरी तरह पानी फिर गया है। अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी एवंं निदेशक सूचना शिशिर जी जैसेेेे ईमानदार अधिकारियों की वजह से सरकार का करोड़ों रुपया बच गया l
BY SUBHASH CHANDRA YADAV

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here