अजहरुद्दीन ने कप्तान के रूप में सौरभ गांगुली को तैयार किया: राशिद लतीफ


नईदिल्ली,10 सितंबर । पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ ने मोहम्मद अजहरुद्दीन की तारीफ की है। लतीफ ने कहा है कि अजहरुद्दीन को सौरभ गांगुली के भीतर लीडरशिप च्ॉलिटी विकसित करने का काफी श्रेय जाता है। और इसी परंपरा में भारतीय क्रिकेट को महेंद्र सिंह धोनी जैसा कप्तान हासिल करने में मदद की।


हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले पूर्व कप्तान धोनी की तारीफ करते हुए लतीफ ने 90 के दशक में अजहरुद्दीन द्वारा विकसित किए गए कल्चर के बारे में बात की।
उन्हों कहा, मैं मोहम्मद अजहरुद्दीन की बहुत इज्जत करता हूं। उन्होंने भारतीय क्रिकेट की काफी लंबे समय तक सेवा किया और फिर सौरभ गांगुली जैसे कप्तान के लिए विरासत छोड़ी। सौरभ गांगुली को कप्तान के रूप में तैयार करने में अजहर की बड़ी भूमिका थी। सचिन तेंडुलकर और राहुल द्रविड़  जैसे महान खिलाड़ी सौरभ गांगुली की कप्तानी में खेले।
गांगुली ने अपना वनडे डेब्यू 1992 में और टेस्ट डेब्यू 1996 में किया। दोनों ही मौकों पर अजहरुद्दीन ही भारतीय टीम के कप्तान थे। गांगुली ने अजहर की कप्तानी में 12 टेस्ट और 53 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले।
पाकिस्तान के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज लतीफ ने कहा कि धोनी की कप्तानी में गांगुली और अजहर दोनों की कप्तानी के गुण मौजूद थे।
लतीफ ने कहा कि गांगुली को कप्तान के रूप में तैयार करने काफी क्रेडिट अजहरुद्दीन को मिलना चाहिए। वहीं धोनी के करियर को तैयार में गांगुली ने अहम किरदार निभाया।
लतीफ ने कहा, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने गांगुली को तैयार किया और धोनी ने अजहरुद्दीन और गांगुली की खूबियां लेकर आधुनिक क्रिकेट के अनुसार अपना स्टाइल तैयार किया। उन्हें अपनी टीम के मैच जीतने की खूबी में यकीन था। धोनी ने टीम में जीत की मानसिकता पैदा की।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *