जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक सम्पन्न…



बहराइच 19 नवम्बर। जिलाधिकारी शम्भु कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला सड़क सुरक्षा समिति एवं जिला विद्यालय यान परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में जनपद के चिन्हित दुर्घटना बाहूल्य क्षेत्र (ब्लैक स्पाॅट्स) पर सुधारात्मक/सुरक्षात्मक कार्यवाही की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निर्देश दिया

कि ब्लैक स्पाट्स से सम्बन्धित सुधारात्मक/सुरक्षात्मक कार्य यथाशीघ्र पूर्ण कर लिये जायें।

परिवहन, पुलिस, लोक निर्माण विभाग के अधिकारी संयुक्त रूप से ब्लैक स्पॅाट्स पर कराये गये

सुरक्षात्मक कार्य का सत्यापन कर आवश्यकतानुसार मानक के अनुरूप सुरक्षात्मक कार्य कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि जिन ब्लैक स्पाॅट्स पर बार-बार दुघर्टनाएं होती है

दुघटनाओं के कारणों का परीक्षण कर आवश्यकतानुसार सुरक्षात्मक कार्य कराये जाय।


जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि स्कूल वाहनों का मानक के अनुसार संचालन सुनिश्चित कराये जाने के लिए ठोस कार्यवाही

की जाय तथा ऐसे स्कूल जो नियमों की अनदेखी करें उनके विरूद्ध कठोर कार्यवाही भी की जाय। श्री कुमार ने ए.आर.टी.ओ. को निर्देश दिया

कि स्कूल वाहनों के चालकों के स्वास्थ्य एवं ड्राइविंग प्रशिक्षण तथा वाहनों की फिटनेस आदि के सम्बन्ध में नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही की जाय।

विद्यालय सचालकों यह भी निर्देश दिये गये कि वाहन चालकों के चरित्र का सत्यापन अनिवार्य रूप से करा लिया जाय, बिना चरित्र सत्यापन के वाहन चालक न रखा जाय।

चीनी मिलों व भट्टा स्वामियों को निर्देश दिये गये कि शत प्रतिशत ट्रालियों एवं भार वाहनों पर रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगावाये जाय। साथ ही

तथा गन्ने के ओवर लोड़िंग पर भी प्रभावी अकंुश लगया जाय। इस सम्बंध में जिला गन्नाधिकारी को निर्देश दिये गये

कि चीनी मिलो ंसे समन्वय कर विगत वर्ष से इस वर्ष बेहतर शत प्रतिशत गन्ना ट्रालियों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगवाना सुनिश्चित करे।

वाहन डीलरों को निर्देश दिये गये कि शासन द्वारा लागू  की गयी डिजिटल व्यवस्था से सम्बन्धित समस्त औपचारिकताएं पूर्ण करने के उपरान्त ही वाहनों की बिक्री की जाय।


जिलाधिकारी श्री कुमार ने यह भी निर्देश दिया

कि जनपद के सभी (ब्लैक स्पाट्स) अंधे मोड़ों अथवा अतिदुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों में रेफलेक्टिव इन्डिकेटर बोर्ड स्थापित कराये जायें

तथा उस स्थान के आस-पास स्थित थानों व अस्पतालों का सम्पूर्ण विवरण जिसमें जिम्मेदार अधिकारियों के मोबाइल नम्बर, स्थान, दूरी इत्यादि का भी उल्लेख किया जा

य, ताकि किसी दुर्घटना के समय लोगों को बिना समय गवाये मदद मिल सके।
परिवहन विभाग व पुलिस विभाग द्वारा नियमित रूप से यातायात नियमों की जानकारी जन-जन तक पहुॅचाये

जाने के उद्देश्य से वाल राईटिंग, हैण्डबिल्स, होर्डिंग्स व बैनर इत्यादि के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार कर लोगों को सड़क सुरक्षा एवं यातायात नियमों की जानकारी उपलब्ध करायी जाय।

साथ ही इस अवसर पर लोगों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव तथा सुरक्षात्मक प्रोटो काल का पालन करने के लिए प्रेरित भी किया जाय।


जिलाधिकारी ने सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिया कि हिट एण्ड रन से दुर्घटना में मृतक व्यक्तियों को सोलेशियम स्कीम 1989 के अन्तर्गत आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जाय।

उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि पम्पलेट एवं बैनर लगाकर सोलेशियम स्कीम 1989 का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाय।

साथ ही स्कीम के सम्बन्ध में समस्त उप जिलाधिकारियों को भी जानकारी उपलब्ध करा दी जाय जिससे आवश्यकता पड़ने पर उचित कार्यवाही की जा सके।


बैठक के दौरान शहर में ट्रैफिक जाम की समस्या के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने ईओ नगर पालिका परिषद बहराइच को शहर के अन्तर्गत उचित पार्किंग व्यवस्था से सम्बन्धित समस्त औपचारिकताएं पूर्ण कर जीप, टैक्सी एवं टैम्पों स्टैण्डों का संचालन प्रारम्भ करायें।

बैठक के दौरान जरवल में रोडवेज़ की बसों के बेतरतीब खड़े होने से जाम जैसी समस्या उत्पन्न होने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देश ए.आर.एम. को निर्देश दिया कि समस्या का समधान कराये।


इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक नगर कुंवर ज्ञानन्जय सिंह, नगर मजिस्टेªट जय प्रकाश, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी दिनेश कुमार यादव, जिला गन्नाधिकारी शैलेश कुमार मौर्य,

अधि. अधिकारी पवन कुमार, अधि. अभि. लोक निर्माण खण्ड आर.के. राम, ए.के. वर्मा, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी

प्रशासन वीरेन्द्र सिंह व प्रवर्तन अशोक कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी, चीनी मिलों के प्रतिनिधि, स्कूल संचालक, ईट भट्टा समिति के प्रतिनिधि व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *