ब्लाक हुज़ूरपुर में विधायक सदर व पयागपुर की अध्यक्षता में आयोजित हुआ किसान मेला

Up Government Planning Stopped Movement Of Farmers - किसानों पर खुुफिया  नजर, आंदोलन पर अंकुश लगाने की योगी सरकार की यह है प्लानिंग | Patrika News

गोष्ठी एवं प्रदर्शनी चित्र संख्या 01 से 06 तक तथा फोटो कैपशनबहराइच 21 जनवरी। प्रदेश में कृषि व कृषि आधारित अन्य गतिविधियों पशुपालन, बागवानी, गन्ना इत्यादि तथा कृषि आधारित उद्योगों को विकसित कर प्रदेश में किसानों की वर्तमान आय को दोगुना करने के उद्देश्य से संचालित ‘‘किसान कल्याण मिशन’’ के अवसर पर विकास खण्ड हुज़ूरपुर में वृहद किसान मेला, गोष्ठी एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आयोजित कृषि प्रदर्शनी में ऊर्जा, कृषि, एन.आर.एल.एम., पशुपालन, विकास, रेशम, खाद्य एवं रसद, मण्डी, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, महिला एवं बाल विकास सहित अन्य विभागों व गैर संरकारी संस्थाओं द्वारा लगाये गये स्टालों का मुख्य अतिथियों ने अन्य अधिकारियों व संभ्रान्तजन के साथ अवलोकन भी किया। विकास खण्ड हुज़ूरपुर में आयोजित किसान मेला, गोष्ठी एवं प्रदर्शनी के दौरान मुख्य अतिथि विधायक पयागपुर सुभाष त्रिपाठी व सदर विधायक श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने ग्राम शेखापुर के कृषक देवेन्द्र कुमार व राकेश कुमार गोस्वामी को सोलर पम्प, करमुल्लापुर के नन्द कुमार मौर्य को सीड ड्रिल, फार्म मशीनरी बैंक योजना के तहत 03 लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र, ग्राम्य विकास विभाग के तहत 10, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत 03, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), मनरेगा व उद्यान विभाग के 05-05 तथा  सामूहिक विवाह योजना के 03 लाभार्थियों को प्रतीक चेक का वितरण किया गया।कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक पयागपुर सुभाष त्रिपाठी ने कहा कि देश के मा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में संचालित केन्द्र व राज्य सरकार बिना किसी भेद-भाव के सबका साथ-सबका विकास के एजेण्डे पर कार्य कर रही है। गाॅव, गरीब व किसानों का उत्थान केन्द्र व राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। श्री त्रिपाठी ने कहा कि देश के किसान खुशहाल हांे और उनका सम्मान बरकरार रहे इसके लिए केन्द्र व राज्य सरकार अनेकों योजनाएं संचालित कर रही हैं। श्री त्रिपाठी ने किसानों का आहवान किया कि जैविक खेती को बढ़ावा दें जिससे कि उपज की लागत में कमी आये। उन्होंने कहा कि उपज की लागत में कमी आने से सीधे किसानों को लाभ होगा। उन्होंने किसानों का आहवान किया कि खेती किसानी के साथ-साथ कृषि आधारित उद्योगों एवं व्यवसाय को भी अपनायें।गोष्ठी को सम्बोधित करती हुईं सदर विधायक श्रीमती अनुपमा जायसवाल ने कहा कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान, जय अनुसंधान का नारा दिया है। इस नारे के साथ देश के किसानों के लिए एक सन्देश है कि कृषि में नई-नई तकनीक का समावेश करें तथा कृषि आधारित अन्य गतिविधियों पशुपालन, बागवानी, गन्ना इत्यादि तथा कृषि आधारित उद्योगों को अपनाकर अपनी वर्तमान आय को दोगुना करने का प्रयास करें। उन्होंने किसानों को सुझाव दिया कि कृषि विविधीकरण को अपनायें तथा अधिक से अधिक जैविक खाद का उपयोग करें ताकि आपके प्रोडक्ट की क्वालिटी बेस्ट हो। इससे आपको अपने उपज की अच्छी कीमत प्राप्त होगी। श्रीमती जायसवाल ने किसानों का आहवान किया कि प्रदेश स्तर पर सम्मानित जनपद के किसानों से प्रेरणा लेकर आगे बढं़े।प्रगतिशील कृषक चन्द्रभान सिंह ‘‘संचित’’ ने केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की तथा किसानों का आहवान किया कि खेती के साथ-साथ कृषि आधारित अन्य गतिविधियों को भी अपनायें ताकि आपकी आय दोगुना हो सके। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, जिला कृषि अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय व अन्य प्रगतिशील कृषकों ने अपने अनुभवों को साझा करते हुए किसानों का आहवान किया कि योजनाओं का भरपूर लाभ उठायें। कार्यक्रम के अन्त में ए.डी.ओ. (आई.एस.बी.) ने सभी अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर जिला कृषि रक्षा अधिकारी आर.डी. वर्मा, जिला उद्यान अधिकारी पारसनाथ, खण्ड विकास अधिकारी संदीप कुमार सिंह, सी.डी.पी.ओ. विमल कुमार सहित कृषि अन्य एलायड विभाग के अधिकारी, संभ्रान्तजन सहित लगभग 1000 कृषक मौजूद रहे। मुख्य विशेषता यह रही कि बड़ी संख्या में महिला कृषकों द्वारा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया। 

Like us share us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *